प्रत्येक व्यक्ति अपने नज़र में हीरो होता है और संपूर्ण होता है। हर इंसान को ईश्वर ने खास बनाया है। लेकिन जब हम किसी से पहली बार मिलते हैं, तो वो हमें जानने के लिए हमसे हमारे बारे में ही पूछता है।

सुप्रभात, आपका दिन मंगलमय हो।

अगर मैं सोचूं कि मुझे किसी की भी ज़रूरत नहीं, तो ये मेरा ‘अहम’ है। और अगर मैं सोचूं कि सबको मेरी ज़रूरत है, तो ये मेरा ‘वहम’ है।